Home » Biology (जीव विज्ञानं ) » Biology Gk : Excretory system | उत्सर्जन तंत्र

Biology Gk : Excretory system | उत्सर्जन तंत्र




जीवो के शरीर से विषैले अपशिष्ट पदार्थो को निकालने की Process  को उत्सर्जन कहते है |
 
ये विषैले अपशिष्ट पदार्थो जैसे –  यूरिया , अमोनिया , यूरिक अम्ल |

उत्सर्जी अंग :-

Kidney (वृक्क)
Skin (त्वचा )
lungs (फेफड़ा)
liver ( यकृत )
 

Kidney (वृक्क) :-

 
2 Part होते है-
 
प्रत्येक किडनी 1 करोड़ 30 लाख नलियों से मिलकर बनी होती है जिसको नेफ्रोन कहते है |
नेफ्रोन ही किडनी की working यूनिट है |
 
कार्य – 
 
किडनी रक्त के प्लाज़्मा को छान कर इसे शुद्ध करने का काम करता है
किडनी रक्त में से अनावश्यक पदार्थ को फ़िल्टर करके कुछ पानी के साथ
यूरिन के फॉर्म में शरीर से बहार निकता है
Note:- रक्त के शुद्धिकरण की प्रक्रिया डायलेसिस कहलाती है
सामान्य यूरिन(मूत्र ) में  95 % पानी , 2.7 % यूरिया ,2 %  लवण , 0.3 % यूरिक अम्ल |
यूरिन का रंग हल्का पीला उसमे उपस्थित यूरोक्रोम के कारन होता है
मानव यूरिन की PH – 6 है |
किडनी में ही पथरी बनती है और ये कैल्शियम आक्जलेट की बनी होती है |
 

Skin (त्वचा ) : – 

Sweat gland पसीने के रूप में अपशिष्ट पदार्थो को बहार निकलती है और शरीर का तापमान नियंत्रित रखती है |
मानव शरीर का सबसे बड़ा अंग त्वचा ही है |
 

Lungs (फेफड़ा ) :-

मानव शरीर में CO2 का उत्सर्जन Lungs के द्वारा ही होता है |
 

Liver (यकृत) :- 

ये हानिकारक पदार्थ अमोनिया or अतिरिक्त प्रोटीन को यूरिया एवं यूरिक अम्ल में बदलकर किडनी की help  से उत्सर्जित करता है |
 
 
 
error: Content is protected !!