Fundamental Rights | मौलिक अधिकार

Fundamental Rights (मौलिक अधिकार)

  • संविधान के भाग 3 में इसका वर्णन है
  • भारत के संविधान में अनुच्छेद 12 से 35 में मौलिक अधिकार का वर्णन है
  • मूल संविधान में मौलिक अधिकार की संख्या 7 थी , पर 44 वे संविधान संशोधन 1978 के तहत “संपत्ति के अधिकार” को हटा दिया गया और संविधान के अनुच्छेद 300 (a) के अन्तर्गत वैधानिक अधिकार (legal Rights) में रखा गया |
  • मौलिक अधिकारों में संशोधन हो सकता है (संसद के द्वारा ) मूल अधिकारों का निलंबन किया जा सकता है (राष्ट्रपति )|
  • मूल अधिकारों का संरक्षक – सर्वोच्च न्यायलय (SC)
भारतीय संविधान में निम्नलिखित मौलिक अधिकारों को शामिल किया गया है
  • समानता का अधिकार (अनुच्छेद 12 से अनुच्छेद 18)
  • स्वतंत्रता का अधिकार (अनुच्छेद 19 से अनुच्छेद 22)
  • शोषण के विरुद्ध अधिकार (अनुच्छेद 23 से अनुच्छेद 24)
  • धार्मिक स्वतंत्रता का अधिकार (अनुच्छेद 25 से अनुच्छेद 28)
  • शिक्षा और संस्कृति का अधिकार (अनुच्छेद 29 से अनुच्छेद 30)
  • संवैधानिक उपचारों का अधिकार (अनुच्छेद 32)

Imp मौलिक अधिकार

अनुच्छेद 17 -अस्पृश्यता का अधिकार ( अस्पृश्यता को गैर क़ानूनी घोषित किया गया )
अनुच्छेद 24 -कारखानों में 14 वर्ष से कम आयु वाले बच्चे को कार्य पर रखने पर प्रतिबन्ध
अनुच्छेद 25 -धार्मिक सवतंत्रता का अधिकार
अनुच्छेद 32 -संविधान उपचारो का अधिकार

Maths Course

Click and Pay

Recent Posts

error: Content is protected !!